12.10.18

सेकुलर मोर्चा बनने के बाद पहली बार शिवपाल के साथ मंच पर आए मुलायम

समाजवादी पार्टी से अलग होकर सेक्युलर मोर्चा बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव के साथ पहली बार शुक्रवार को सपा के संरक्षक और उनके भाई मुलायम सिंह यादव नजर आए। 

राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के मौके पर लखनऊ के लोहिया ट्रस्ट में शिवपाल और मुलायम एक साथ पहुंचे। लोहिया की पुण्य तिथि पर आज मुलायम सिंह यादव अपने छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव के साथ रहे। मुलायम सिंह यादव ने आज समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के लोहिया ट्रस्ट के कार्यक्रम में कहा कि लोहिया जी को लेकर दिल्ली, मुम्बई में कार्यक्रम हो रहा है।
मुलायम सिंह ने कहा कि लोहिया जी गरीब परिवार से थे। उन्होंने देश-विदेश में नाम कमाया। वह कहा करते थे अन्याय कहीं भी हो, उसके खिलाफ आवाज उठानी चाहिए। उन्हीं के बताए रास्ते पर चलकर गरीब व किसानों का सपना पूरा हो सकता है। वह बहुत सादगी से जीवन व्यतीत करते थे। उनके पास सिर्फ दो जोड़ी कपड़े हुआ करते थे।
वहीं, शिवपाल यादव ने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) का आशीर्वाद हमेशा हमारे साथ है। नेताजी ने लोहिया जी के विचारों को लेकर संघर्ष किया। शिवपाल ने कहा कि लोहिया जी के सिद्घांतों से प्रेरित होकर ही सेकुलर मोर्चा का गठन किया है।
लोहिया ट्रस्ट के कार्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम में पूर्व राज्यसभा सदस्य तथा करीब पंद्रह दिन पहले शिवपाल सिंह यादव को आशीर्वाद देने वाले भगवती सिंह भी मौजूद थे। शिवपाल और अखिलेश की अदावत जगजाहिर है और मुलायम कभी शिवपाल के पक्ष में खड़े नजर आते हैं तो कभी अखिलेश के।
अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष हैं और शिवपाल सिंह यादव समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के संस्थापक। दोनों ही मुलायम सिंह यादव को अपने साथ बताते हैं। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के डॉ. राममनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रम में शिवपाल के मंच पर पहुंचने पर राजनीतिक सरगरमी एक बार फिर तेज हो गई है।
इसस पहले मुलायम सिंह यादव सपा के अध्यक्ष अखिलेश सिंह यादव के साथ भी मंच साझा किया था।

SHARE THIS

0 Comment to "सेकुलर मोर्चा बनने के बाद पहली बार शिवपाल के साथ मंच पर आए मुलायम "

Post a Comment

GOOGLE