Find Any Thing

RECENT

Sunday, February 04, 2024

Chile Forest Fire : चिली में जंगलों में भयंकर आग, देश में आपातकाल, मरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी की संभावना

Sunday, February 04, 2024 0

चिली में जंगलों में भयंकर आग: देश में आपातकाल, मरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी की संभावना

साउथ अमेरिका के देश चिली में जंगलों में भयंकर आग लग गई है। यह आग अब तेजी से फैल रही है और चिली ने इस स्थिति को देखते हुए देश में आपातकाल की स्थिति घोषित की है। शनिवार को चिली के अधिकारियों ने हताहतों की जानकारी देते हुए बताया कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है और अब तक बचाव दल वालपराइसो क्षेत्र के सबसे अधिक प्रभावित इलाकों में पहुंचा नहीं पा रहा है।

Chile Forest Fire : चिली में जंगलों में भयंकर आग, देश में आपातकाल, मरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी की संभावना


चिली की आंतरिक (गृह) मंत्री कैरोलिना टोहा ने बताया कि फिलहाल देश के मध्य और दक्षिण में 92 जंगल आगों में बहुतेजी चपेट में हैं, जहां इस सप्ताह तापमान असामान्य रूप से बढ़ा है। उन्होंने बताया कि सबसे घातक आग वालपराइसो क्षेत्र में लगी है और लोगों से अपील की है कि वे घरों से बाहर न निकलें।

दक्षिण अमेरिकी देश चिली में जंगल की आग से 46 लोगों की मौत हो गई है और करीब 1,100 घर नष्ट हो गए हैं। अधिकारियों ने शनिवार को हताहतों की जानकारी देते हुए कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है और अभी तक बचाव दल वालपराइसो क्षेत्र के सबसे अधिक प्रभावित इलाकों में पहुंचा नहीं पा रहा है।


क्विल्पुए और विला एलेमाना कस्बों के पास शुक्रवार से दो बार आग लगने से कम से कम 8,000 हेक्टेयर जमीन को नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि आग से विना डेल मार के तटीय रिसॉर्ट शहर को अधिक खतरा है, क्योंकि यहां पड़ोस के शहर आग से बुरी तरह प्रभावित हैं।

इस महासंघटन के समय, सरकारी अधिकारियों ने लोगों से सतर्क रहने और स्थानीय अधिकारियों की हुकूमत का पालन करने की अपील की है। इसके साथ ही, राहगीरों और प्रभावित लोगों के लिए आपातकालीन सुरक्षा की व्यवस्था की जा रही है ताकि उन्हें तुरंत सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा सके।

READ FULL

Saturday, January 27, 2024

"शहीद दिवस (Martyrs' Day): साहस, बलिदान, और वैश्विक सहनशीलता का समर्पण"

Saturday, January 27, 2024 0

"शहीद दिवस (Martyrs' Day): साहस, बलिदान, और वैश्विक सहनशीलता का समर्पण"

इस दिन 1948 को नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। देश को आजादी दिलाने के लिए सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने वाले गांधी जी के निधन के बाद उनकी पुण्यतिथि को शहीद दिवस के रूप में मनाया जाने लगा।

शहीद दिवस, जिसे शहीद दिवस कहा जाता है, एक ऐसे पोषण, साहस, और बलिदान की स्मृति है जिसमें व्यक्तियों ने उन्च उठाकर उनकी जानें दीं जो उदार कारणों के लिए अपने प्राणों की आहुति दी। जबकि इसका अनुसरण विशिष्ट राष्ट्रीय इतिहासों में दी गई है, शहीदता का और व्यापक विषय भूगोलों को पार करता है, मानवता के साझा न्याय, स्वतंत्रता, और सहनशीलता की कुछ के पीछे है।

शहीद दिवस (Martyrs' Day): साहस, बलिदान, और वैश्विक सहनशीलता का समर्पण


ऐतिहासिक संदर्भ:

विभिन्न देशों में शहीद दिवस की ऐतिहासिक उत्पत्ति में गहराई से जाएं, महत्वपूर्ण पलों और उन व्यक्तियों की जांच करें जिनकी बलिदाने इसकी स्थापना में योगदान किया। उन समयों को हाइलाइट करें जब ये स्मृतियाँ सिद्धांतों के प्रति अडिग समर्पण का प्रतीक बनाई गई थीं, जो समय और स्थान के सीमा को पार करते हैं।

वैश्विक अवलोकन:

दुनियाभर में देश कैसे शहीद दिवस का आयोजन करते हैं, इस पर विचार करें। जिन विशिष्ट रीति-रिवाजों, समारोहों, और घटनाओं के माध्यम से उन व्यक्तियों की याद किया जाता है जिन्होंने अपने जीवन की आहुति दी। दिखाएं कि इस वैश्विक समुदाय का साझा प्रयास है जो जीवन के लिए बलिदान करने वालों की याद को समर्थन करता है और समर्थन करता है।

शहीदता का विकास:

सदियों के साथ शहीदता के आदर्श का अध्ययन करें, देखें कि यह समाजों को कैसे आकार देता है, आंदोलनों को उत्तेजित कैसे करता है, और इतिहास का पथ कैसे प्रभावित करता है। इतिहासी व्यक्तियों और समकालीन नायकों की जांच करें जो आज भी प्रेरित करने वाले बलिदान का प्रतीक बने हुए हैं।

समाजों पर प्रभाव:

समाजों पर शहीद दिवस के गहरे प्रभाव को जांचें, सांगीती यादगारों और राष्ट्रीय या वैश्विक पहचान की भावना के संदर्भ में। चरित्रों की कहानियां कैसे समुदायों के मूल्यों और आकांक्षाओं को आकार देने में योगदान करती हैं, एकता और सहनशीलता को बढ़ावा देने में कैसे सहारा प्रदान करती हैं।

आधुनिक संदर्भ में शहीदता:

वर्तमान दुनिया के साथ शहीदता के समकालीन संदर्भ की जरूरत है, उन व्यक्तियों और समुदायों के चुनौतियों का अध्ययन करें जो न्याय, मानव अधिकार, और सामाजिक प्रगति के लिए प्रयासशील हैं। चरित्रों के विरासत की किसी की बात कैसे आज के आंदोलनों को प्रेरित करती है, यह चर्चा करें।

परिचय और प्रेरणा:

पाठकों को आमंत्रित करें कि वे इस दिन के महत्व पर विचार करें और अपने जीवन और समाज में इसके स्मृतियों से कैसे प्रेरित हो सकते हैं। चर्चा करें कि शहीदों की कहानियों से कैसे प्रेरित होकर व्यक्तियों को न्याय, स्वतंत्रता, और समानता के लिए खड़ा होने के लिए उत्साहित किया जा सकता है।

READ FULL

Thursday, January 11, 2024

Tata Tiago EV : Tata Launching a Powerful EV Car in India

Thursday, January 11, 2024 0

The Tata Tiago EV emerges as a formidable contender in the electric vehicle market, offering a commendable range of 315 km as per MIDC standards. Beyond its economic appeal, the Tiago EV presents an EV signature look upfront, coupled with plush leatherette upholstery, making it a stylish choice for consumers. Safety takes center stage with an impressive 4-star Global NCAP rating, making it a practical option for families. This overview underscores the Tiago EV's commitment to affordability, style, and safety.

Tata Tiago EV : Tata Launching a Powerful EV Car in India

1. Performance Excellence: Acceleration and Range

The Tata Tiago EV stands out with its exceptional performance, achieving an impressive acceleration from 0 to 60 km/h in just 5.7 seconds. Additionally, the electric vehicle offers a notable range of 315 km as per MIDC standards, making it a reliable choice for both city commuting and longer journeys.


2. Swift Charging Capability: Fast-Charge in 58 Minutes

One of the standout features of the Tiago EV is its fast-charging capability, requiring only 58 minutes to charge from 10% to 80% under specific ambient temperature conditions. This swift charging option enhances the convenience and usability of the electric vehicle, catering to the evolving needs of electric vehicle users.


3. Affordable E-Mobility: Pricing and Variants

With a price range starting from Rs. 8.69 lakh and going up to Rs. 12.04 lakh, the Tata Tiago EV positions itself as the most affordable electric vehicle in the Indian market. The availability of seven distinct variants allows consumers to choose a model that aligns with their preferences and budget, further enhancing its accessibility.


4. Stylish and Comfortable: EV Signature Look and Plush Interior

The Tiago EV doesn't just excel in performance and affordability; it also boasts a signature EV look upfront, adding a touch of style to the electric driving experience. Inside, passengers are treated to plush leatherette upholstery, ensuring a comfortable and enjoyable ride.


5. Safety First: 4-Star Global NCAP Rating

Prioritizing safety, the Tata Tiago EV has earned a 4-star Global NCAP rating, making it a secure choice for families and all types of commuters. This emphasis on safety underscores Tata's commitment to providing not just an efficient but also a secure electric driving experience.


6. Powertrain Options: Versatility in Battery Packs

The Tata Tiago EV offers versatility in powertrain options, allowing consumers to choose between two battery packs: the 19.2 kWh and the 24 kWh. This flexibility caters to different driving needs and preferences, enhancing the overall appeal of the electric vehicle.


7. Charging Flexibility: Options for Every Need

Charging the Tiago EV is a hassle-free experience with multiple options available. From a 15A plug point to a 3.3 kW charger, a 7.2 kW AC fast charger, and a DC fast charger, users can choose the charging option that best suits their requirements, providing unparalleled flexibility in the charging process.


8. Technical Prowess: Battery Capacity and Dimensions

Delving into the technical specifications, the Tiago EV houses a substantial 24 kWh battery, ensuring a robust and enduring electric driving experience. The vehicle's dimensions, including a length of 3769 mm, width of 1677 mm, height of 1536 mm, and a wheelbase of 2400 mm, contribute to its overall efficiency and practicality.


9. Practical Design Choices: No Sunroof

While the Tata Tiago EV prioritizes practicality, it does not feature a sunroof, emphasizing its commitment to maintaining a balance between functional design and efficiency in electric mobility.

READ FULL

Friday, January 05, 2024

National Youth Day in India : Celebrate Swami Vivekananda's Legacy

Friday, January 05, 2024 0

National Youth Day in India: Celebrate Swami Vivekananda's Legacy :


National Youth Day is celebrated on January 12th each year in India to commemorate the birth anniversary of the iconic spiritual leader, Swami Vivekananda. Born on January 12, 1863, in Kolkata, Swami Vivekananda's teachings and ideals continue to inspire the youth, making this day a significant occasion for reflection, learning, and empowerment.

National Youth Day in India : Celebrate Swami Vivekananda's Legacy


Empowering the Youth: A Tribute to Swami Vivekananda's Vision :

National Youth Day goes beyond being a mere observance; it is a call to action for the nation's young minds to embrace Swami Vivekananda's philosophy. His teachings on spirituality, education, tolerance, and selfless service to society form the foundation for various events and activities organized nationwide.


Educational Initiatives and Philosophical Discourses :

The day is marked by seminars, workshops, and discussions held in educational institutions, cultural centers, and youth organizations. These events delve into Swami Vivekananda's ideas, aiming to instill a sense of pride, responsibility, and a strong moral and ethical compass among the youth.


Unity in Diversity: Celebrating India's Cultural Richness :

National Youth Day becomes a celebration of India's diverse cultural heritage. Cultural programs, art exhibitions, and intercultural exchanges foster understanding and harmony among the youth. The emphasis is on appreciating diversity and working collectively toward common goals.


Holistic Development Through Education :

A core theme of the day is the transformative power of education. Swami Vivekananda believed in education as a means to uplift society, and National Youth Day underscores the importance of accessible and quality education for all. Educational institutions often use this occasion to conduct special lectures, panel discussions, and awareness campaigns.


Youth and Social Responsibility: Nurturing Change-Makers :

The day places a spotlight on social responsibility and community service. Voluntary activities like cleanliness drives, blood donation camps, and awareness programs on social issues encourage active participation among the youth, fostering a sense of responsibility towards societal well-being.


Honoring Excellence: Awards for Outstanding Youth Achievements :

National Youth Day is an opportunity to recognize and celebrate outstanding young individuals who have made significant contributions to various fields. Awards and honors serve as inspiration for others to strive for excellence and contribute positively to society.

Why do we celebrate National Youth Day :

National Youth Day is celebrated in India to honor the birth anniversary of Swami Vivekananda, an influential spiritual leader. The day aims to inspire and empower the youth by promoting the values of spirituality, tolerance, and selfless service to society, as advocated by Swami Vivekananda. It serves as a platform for cultural celebration, educational initiatives, and community engagement, encouraging young people to actively contribute to their communities. National Youth Day reflects a commitment to fostering a generation grounded in Indian cultural heritage and dedicated to the principles that Swami Vivekananda espoused, ultimately shaping a more harmonious and empowered society.

READ FULL

Monday, January 01, 2024

महिलाओं की सशक्तिकरण: पुलिस ने महिलाओं के लिए मुफ्त रात्रि पिक और ड्रॉप शुरू किया

Monday, January 01, 2024 0

महिलाओं की सशक्तिकरण: सुरक्षा और समर्थन में प्रतिबद्धता


एक नई पहल के रूप में, महिला सम्मान प्रकोष्ठ ने 12 करोड़ से अधिक महिलाओं और बच्चों को सशक्त करने का संकल्प लिया है। इसका मुख्य उद्देश्य कानून और नागरिक समाज के बीच एक महत्वपूर्ण समर्थन सेतु बनाना है, और पुलिस के साथ महिला संबंधित मुद्दों में जनता के बीच विश्वास को बढ़ाना है।

महिलाओं की सशक्तिकरण: उत्तर प्रदेश पुलिस का सुरक्षा और समर्थन में प्रतिबद्धता


इसके तहत, पुलिस ने एक मुफ्त यात्रा योजना प्रस्तुत की है जिसका उद्देश्य वह महिलाएं हैं जो रात 10 बजे से सुबह 6 बजे के बीच वाहन की कमी का सामना कर रही हैं। इस स्थिति में कोई भी महिला जो इस समस्या का सामना कर रही है, वह पुलिस हेल्पलाइन नंबर (1091 और 7837018555) पर संपर्क कर सकती है और एक राइड सुरक्षिती के लिए अनुरोध कर सकती है। ये हेल्पलाइनें 24x7 घंटे काम करती हैं, तात्कालिक प्रतिक्रिया और समर्थन सुनिश्चित करती हैं। संपर्क के बाद, पुलिस कंट्रोल रूम (PCR) वैन या एक स्थानीय थाना अधिकारी (SHO) वाहन उसे सुरक्षित रूप से उसके गंतव्य तक पहुंचाएगा। इस सेवा का मुफ्त प्रदान किया जाता है।


पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने कहा, "10 बजे रात से 6 बजे सुबह तक घर पहुंचने के लिए वाहन प्राप्त नहीं कर सकने वाली कोई भी महिला पुलिस हेल्पलाइन नंबरों - 112, 1091 और 7837018555 - पर इस सुविधा का अनुरोध कर सकती है, जो रोज़ उपलब्ध है। पुलिस कंट्रोल रूम (PCR) वैन या एक स्थानीय थाना अधिकारी (SHO) वाहन तत्परता से आएंगे और उसे मुफ्त में सुरक्षित तक पहुंचाएंगे।" यह नई योजना पहले से ही कार्थीयरत, पुलिस विभाग की प्रक्रियात्मक दृष्टिकोण को दर्शाती है। इसके अलावा, लुधियाना पुलिस के पास 28 एसएचओ वाहन, 110 पीसी मोटरसाइकिल और 10 वैन हैं जो इस सेवा को प्रभावी ढंग से प्रदान करने के लिए हैं।


हेल्पलाइनों के अलावा, हमने शक्ति एप्लिकेशन भी लॉन्च किया है, जिसके माध्यम से महिलाएं पुलिस से सहायता मांग सकती हैं। इसमें एक एसओएस सुविधा शामिल है जिसमें एक बटन के द्वारा उपयोगकर्ता के स्थान के बारे में उनके 10 संपर्कों को एसओएस सहायता संदेश के साथ अद्यतित किया जाता है और स्थान तत्कालिकता से नजदीकी पीसीआर के साथ साझा किया जाता है," अग्रवाल ने कहा।


यह समृद्धि पूर्ण पहल उत्तर प्रदेश पुलिस के समर्पण को दिखाती है जो महिलाओं की सुरक्षा और कल्याण की सुनिश्चित करने के लिए नई सहायक और सुरक्षा के रास्तों का प्रेरणास्त्रोत बना रही है।

READ FULL

Sunday, December 31, 2023

JN.1 Covid Variant: During the ongoing pandemic, 43% people to socialise on NY Eve

Sunday, December 31, 2023 0

Amidst a Surging Pandemic: Unmasking the New Year's Eve Dilemma in India

As COVID-19 cases surge once again across India, a recent survey has unveiled a surprising trend—nearly 43% of respondents believe masks are now relics of the past, worn rarely if at all, even in the face of rising infections. With New Year's Eve around the corner, the nation stands at a crossroads, questioning the necessity of masking up during festivities. The nonchalant attitude towards COVID-appropriate behavior is further underscored by statistics showing that 29% of Indians plan to engage in social activities during the New Year, while a more cautious 58% intend to stay within the confines of their immediate family, according to the survey.

JN.1 Covid Variant: During the ongoing pandemic, 43% people to socialise on NY Eve


New Delhi, India: 

Despite the ongoing surge in COVID-19 cases, a recent survey revealed that nearly 43% of Indians believe masks are a thing of the past, with few bothering to wear them. Even as the country grapples with escalating cases, only 29% of Indians plan to adhere to COVID-appropriate behavior by socializing over the New Year. A cautious 58% intend to celebrate within the safety of their immediate family at home, according to the survey.


Chandigarh, India: 

Amidst the resurgence of Covid-19 cases, there's a noticeable lapse in adherence to Covid-appropriate behavior compared to the peak of the pandemic. Astonishingly, around 50% of people seem unfazed by the threat of the JN.1 variant, neglecting recommended precautions. For them, celebration appears to override concerns about the coronavirus.


Punjab, India: 

Once among the worst-hit states during the pandemic's peak, Punjab currently reports a controlled situation with minimal cases and deaths in recent days. However, recognizing the potential threat posed by the new JN.1 variant, the state health department has issued a health advisory urging strict adherence to Covid-appropriate behavior. This includes wearing masks in crowded and enclosed spaces, avoiding overcrowded and poorly ventilated areas. The mandate extends to doctors, paramedics, and healthcare workers attending to patients.


Expert Advice: 

While the central authorities emphasize vigilance without panic and have not issued a specific advisory on mask-wearing during the JN.1 subvariant surge, experts advocate for precautionary measures. They highlight the importance of wearing masks, particularly for individuals with underlying health conditions and those aged 60 and above. Additionally, caution is advised against visiting enclosed, poorly ventilated, and crowded spaces, such as restaurants and hotels.

READ FULL

Saturday, December 30, 2023

मोदी जी और योगी जी करेंगे अयोध्या रेलवे स्टेशन का उत्घाटन

Saturday, December 30, 2023 0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी अयोध्या धाम जंक्शन रेलवे स्टेशन का उद्घाटन करने जायेंगे अयोध्या

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर को अयोध्या धाम जंक्शन रेलवे स्टेशन का उद्घाटन करेंगे और दो नए अमृत भारत और छः नए वंदे भारत ट्रेनों का झंडा दिखाएंगे। उत्तर प्रदेश की सड़कों पर फूलों के आलोकिक रूपों से सजीवता है। आज पीएम मोदी के आगमन पर श्रीराम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और पुनर्निर्मित अयोध्या रेलवे स्टेशन के उद्घाटन के साथ भगवान राम के मंदिर में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होगा। यह स्टेशन श्री राम जी के सामान ही अत्यंत सुन्दर दिखता है। 

अयोध्या रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर 'अयोध्या धाम जंक्शन' कर दिया गया है, जिसकी जानकारी बीजेपी सांसद लल्लू सिंह ने दी है। 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में पीएम मोदी मुख्य अतिथि होंगे। पहले 30 दिसंबर को नए एयरपोर्ट और अयोध्या रेलवे स्टेशन का उद्घाटन होगा।


प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम से पहले अयोध्या में उत्साह फैला हुआ है, और 30 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस शहर को हजारों करोड़ों की परियोजनाओं के उपहारों से नवाएंगे। प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अद्वितीय स्वागत का आयोजन किया गया है।

यह रेलवे स्टेशन 11,000 वर्ग मीटर से भी अधिक क्षेत्र में फैला हुआ है, और स्टेशन के केंद्रीय गुंबद को भगवान राम के 'मुकुट' से प्रेरित किया गया है, जबकि संरचना के पीछे का 'चक्र' सूर्य को प्रतिष्ठानित करता है।


विशाल रोड शो

प्रधानमंत्री मोदी इस दौरान जनसभा को संबोधित करके और एक विशाल रोड शो के साथ शहर के लोगों को विकास योजनाओं का उपहार देंगे। शहरवासियों का कहना है कि इस यात्रा से उन्हें मोदी और योगी के विकास कार्यों का अनुभव होगा। हम सभी मोदी-योगी के स्वागत को बेताबी से इंतजार कर रहे हैं।

READ FULL

Happy New Year Wishes Quotes

Saturday, December 30, 2023 0


25 Best Happy New Year Wishes 


1. "May the New Year bring you joy, peace, and prosperity. Happy New Year!"

2. "Wishing you 365 days of happiness, success, and laughter. Happy New Year!"

3. "May each day of the New Year be filled with love, good health, and new opportunities. Happy New Year!"

Happy New Year Wishes

4. "As we say goodbye to the old and welcome the new, may your heart be filled with hope and your spirit be renewed. Happy New Year!"

5. "May the coming year be a canvas of beautiful moments, a palette of vibrant experiences, and a season of love. Happy New Year!"

6. "Cheers to a year filled with adventure, laughter, and all the things that make life worthwhile. Happy New Year!"

7. "May your dreams take flight and your resolutions be achieved. Happy New Year!"

8. "Wishing you a year ahead filled with love, happiness, and all the success you deserve. Happy New Year!"

9. "May the New Year bring you warmth, love, and light to guide your path to a positive destination. Happy New Year!"

10. "May your journey in the New Year be filled with new opportunities, new adventures, and new accomplishments. Happy New Year!"

11. "As you step into the New Year, may your days be bright, your nights be calm, and your heart be content. Happy New Year!"

12. "Wishing you a year filled with moments of joy, success, and prosperity. Happy New Year!"

13. "May the coming year be a chapter of happiness, peace, and fulfillment in your life story. Happy New Year!"

14. "May the New Year be a time of reflection, renewal, and growth. Happy New Year!"

15. "Cheers to another year of laughter, friendship, and unforgettable moments. Happy New Year!"

16. "May the New Year bring you success in all your endeavors and the strength to overcome any challenges that come your way. Happy New Year!"

17. "Wishing you a New Year filled with love, health, and prosperity. Happy New Year!"

18. "May the coming year be the best one yet, filled with endless opportunities for joy and success. Happy New Year!"

19. "As you embark on a new journey in the New Year, may you find happiness and inspiration at every turn. Happy New Year!"

20. "May your days be filled with sunshine, your nights with peaceful dreams, and your heart with contentment. Happy New Year!"

21. "Wishing you a New Year that's as bright and promising as the sun on a clear day. Happy New Year!"

22. "May the New Year bring you moments of laughter, warmth, and the fulfillment of your dreams. Happy New Year!"

23. "As the clock strikes midnight, may your heart be filled with gratitude for the past and hope for the future. Happy New Year!"

24. "Wishing you a year ahead full of exciting adventures, joyful moments, and wonderful surprises. Happy New Year!"

25. "May the New Year be a time of celebration, a time of love, and a time of new beginnings. Happy New Year!"

READ FULL

Thursday, December 28, 2023

तमिलनाडु शोकग्रस्त: डीएमडीके के नेता, विजयकांत, सुबह 7 बजे निधन

Thursday, December 28, 2023 0

तमिलनाडु शोकग्रस्त: डीएमडीके के नेता, विजयकांत, सुबह 7 बजे निधन

तमिलनाडु के देशी मुरपोक्कु द्रविड़ काज़ागम (डीएमडीके) पार्टी के नेता, विजयकांत, ने गुरुवार, 28 दिसंबर, सुबह 7 बजे अपने आत्मा को समर्पित कर दिया। उनकी स्वास्थ्य में गिरावट हो गई थी, जिसके कारण उन्हें चेन्नई के एमआईओटी अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां उन्हें न्यूमोनिया के कारण वेंटिलेटरी समर्थन पर रखा गया था।

तमिलनाडु शोकग्रस्त: डीएमडीके के नेता, विजयकांत, सुबह 7 बजे निधन


उसी दिन के पहले, उनकी पार्टी ने सूचना दी कि विजयकांत कोरोना पॉजिटिव हुए और उन्हें सांस लेने में समस्याएँ आ रही हैं, जिसके लिए उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। हालांकि, अस्पताल की बुलेटिन ने स्पष्ट किया कि उनका निधन न्यूमोनिया से संबंधित था। विजयकांत के अंतिम संस्कार कल रात पार्टी के मुख्य कार्यालय में होंगे।


भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विजयकांत के निधन पर अपनी दुखभार साझा की। मोदी ने विजयकांत के तमिल सिनेमा जगत में उनके दीर्घकालिक स्थान की प्रशंसा की, जिनके चरित्रपूर्ण प्रस्तुतियों ने लाखों को मोहित किया। राजनीतिक नेता के रूप में, विजयकांत ने सार्वजनिक सेवा में गहरा समर्पण दिखाया और उनका प्रभाव तमिलनाडु के राजनीतिक परिदृश्य में स्थायी रूप से छोड़ा।

विजयकांत का उनका सिनेमा करियर 150 से अधिक फिल्मों को समाहित करता रहा, जिसमें उन्होंने केवल मात्र संख्या में ही नहीं, बल्कि अपने रोल्स की प्रकृति में भी उत्कृष्टता प्राप्त की। अक्सर वह पुलिस अधिकारी का किरदार निभाते रहे हैं, और उनकी कहानियां अक्सर ईमानदारी, भ्रष्टाचार के खिलाफ और वादे की महत्वपूर्णता के आसपास घूमती रहती थीं।

READ FULL

तेलंगाना सरकार ने ट्रैफिक चालानों पर की भारी छूट की घोषणा : जानिए आप कैसे उठा सकते है योजना का लाभ

Thursday, December 28, 2023 0

तेलंगाना सरकार ने लिया बड़ा फैसला:

यदि आपके वाहन का पुराना चालान कटा हुआ है, तो अब मौका है उसको भरने का क्योंकि तेलंगाना सरकार दे रही है पुराना चालन भरने पर 60-90% की छूट, जो केवल 20 दिसम्बर से 10 जनवरी तक के लिए बैध है। यदि आपका कोई पेंडिंग चालान रहा है, तो यही सबसे बहतर मौका है।

तेलंगाना सरकार ने ट्रैफिक चालानों पर की भारी छूट की घोषणा

स्कीम की विवरण:

स्कीम 26 दिसंबर 2023 से शुरू होकर 10 जनवरी 2024 तक चलेगी।

लंगाना हाई कोर्ट के निर्देश पर राज्य में आगामी 30 दिसंबर को मेगा लोक अदालत का आयोजन होगा।

लोग ई-चालान वेबसाइट पर जाकर छूट के साथ अपना लंबित चालान भर सकते हैं।


चालान भरने का प्रक्रिया:

1. सबसे पहले तेलंगाना वाहन ई-चालान की वेबसाइट पर लॉग इन करें।

2. वेबसाइट के होमपेज पर चालान वाले बटन पर क्लिक करें।

3. अपने वाहन की डिटेल्स दर्ज करें।

4. डिस्काउंट के साथ सभी पेंडिंग चालान दिखाई देंगे।

5. पेंडिंग चालान को भरने के लिए पेमेंट पर क्लिक करें।

6. डिस्काउंट के बाद चालान भरने के लिए कहा जाएगा।

7. अब आप अपने पेंडिंग चालान को भर सकते हैं।

यह स्कीम 26 दिसंबर 2023 से लागू होगी, और इससे लाभ उठाने के लिए लोगों को 10 जनवरी 2024 तक इस पर आवेदन करना होगा।

READ FULL

Pages