Sharechat में है 40 मिलियन डेली एक्टिव यूजर, क्या लोकसभा चुनाव होगा प्रभावित - Find Any Thing

RECENT

Thursday, April 04, 2019

Sharechat में है 40 मिलियन डेली एक्टिव यूजर, क्या लोकसभा चुनाव होगा प्रभावित

Sharechat में है 40 मिलियन डेली एक्टिव यूजर, क्या लोकसभा चुनाव होगा प्रभावित

(sharechat has 40 million daily active users, whether the lok sabha elections will be affected)
अब लोकसभा चुनाव में कुछ दिन ही बाकी हैं. ऐसे में फर्जी खबरों को भी शेयर किया जा रहा है. इससे बचने के लिए सरकार ने नैतिक आचार संहिता को लागू किया है जिसे फेसबुक, गूगल और ट्विटर ने माना है. ये कंपनियां फर्जी खबरों रोकने के लिए कार्रवाई भी कर रही हैं.
Sharechat भारत में बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स में से एक है. गूगल प्लेस्टोर पर इसके 100 मिलियन से ज्यादा डाउनलोड्स हैं और शियोमी इसके टॉप इन्वेस्टर्स में से एक है. जनवरी 2019 में शेयरचैट ने दावा किया था कि इसके 40 मिलियन डेली एक्टिव यूजर हैं.
अगर शेयरचैट की बात करें तो यह कहा जा सकता है कि यह वही प्लेटफॉर्म है जहां से सबसे ज्यादा वॉट्सऐप के फॉरवर्डेड मैसेज आते हैं. इसके मेन होम स्क्रीन पर वीडियोज, फैशन, लव, एजुकेशन, वॉट्सऐप, ग्रीटिंग्स जैसे कई सेक्शन मिलेंगे. इसके बाद सर्च सेक्शन में आपको कई सबकैटेगरी जैसे खजाना या ट्रेजर जैसे सेक्शन्स मिलेंगे. इसमें यूजर्स GIF, वीडियो, रिंगटोन्स से लेकर सभी तरह के मीडिया फाइल्स को शेयर कर सकते हैं. इसके अलावा इस ऐप में आपको डेडिकेटेड सेलिब्रिटी पेजेज मिलेंगे जिसमें सनी लियोनी, उर्वशी रौतेला, श्रुति हसन जैसी एक्ट्रेसेज शामिल हैं जिनकी फैन फॉलोइंग लाखों में है.इसमें एक गौर करने वाली बात यह है कि आपको सभी पोस्ट को वॉट्सऐप पर शेयर करने के लिए एक डेडिकेटेड बटन दिया गया है. इसमें यह भी दिखाता है कि इस पोस्ट को कितनी बार शेयर किया गया है. अगर इस चीज को देखें तो यहां बातचीत से ज्यादा शेयरिंग का एंगेजमेंट है.जिस तरह से रोज इसके कॉन्टेंट को शेयर किया जा रहा है वैसे में यह जरूरी हो है कि सभी पोस्ट की कॉन्टेंट क्वालिटी को देखा जाए. कंपनी इसको लेकर लेकर काफी कड़ा रवैया अपना रही है. जहां हमें गुड मॉर्निंग और गुड इवनिंग के मैसेज खूब देखने को मिले वहीं ऐसा कोई कॉन्टेंट नहीं मिला जो भड़काऊ हो. कंपनी ने टेक्स्ट और इमेज रिकॉग्निशन के लिए स्ट्रॉन्ग एल्गोरिद्म अपनाया है जो इसके लिए बेकार कॉन्टेंट को आसानी से बता देता है. इसके अलावा कंपनी ने सिक्योरिटी का भी ध्यान रखा है. 
अगर कोई यूजर इस प्लेटफॉर्म पर कुछ पोस्ट करना चाहता है तो उसे अपने फोन नंबर के जरिए ऑथेंटिकेशन करना होगा. 
अगर आप इस ऐप को ध्यान से देखेंगे तो इसमें ऐप पर आपको दूसरे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स की तरह राजनीति सबसे हॉट टॉपिक है और लोग इस पर ही चर्चा कर रहे हैं. इसमें लोकसभा चुनाव से जुड़े सभी मुद्दों पर बात की जा रही है और मीम, जोक्स, वीडियोज के साथ सभी तरीके के पोस्ट किए जा रहे हैं. इसमें आपको बड़ी-बड़ी राजनीतिक पार्टियों के भी वैरिफाइड अकाउंट मिलेंगे जिसके बड़ी मात्रा में फॉलोअर्स हैं. और शेयरचेट भारत में बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स है.
एक बात गौर करने वाली है कि अगर आप इस ऐप में अभी भी फर्जी और गलत खबरों को फैलाने की ताकत है. ऐप डेवलपर्स के पास कॉन्टेंट को क्यूरेट करने का टूल तो है लेकिन वे इसको कंट्रोल नहीं कर सकते हैं कि इसका एक पोस्ट कितने यूजर्स को प्रभावित करता है.

No comments:

Post a Comment