हुई खुदाई तो श्री राम ने दिखाये प्रमाण खुदाई के दौरान मिला प्राचीन शिवलिंग और मूर्तियां - Find Any Thing

RECENT

Saturday, May 23, 2020

हुई खुदाई तो श्री राम ने दिखाये प्रमाण खुदाई के दौरान मिला प्राचीन शिवलिंग और मूर्तियां

हुई खुदाई तो श्री राम ने दिखाये प्रमाण खुदाई के दौरान मिला प्राचीन शिवलिंग और मूर्तियां
( Sri Rama showed the evidence of excavation, found ancient Shivling and idols during excavation )


"जाकि रही भावना जैसी;
प्रभु मुरत देखीं तिन तैसी!"

वो देश जहाँ कण - कण में राम समाये हुए हैं, जहाँ श्री राम के वनवास ने पूरे देश को एक सूत्र में बांध दिया, जहाँ जम्मू कश्मीर में चिनाब नदी के किनारे बसे रामबाण से लेकर तमिलनाडु में हिंद महासागर के किनारे बसे रामेश्वरम तक राम की छवि देखने को मिलती है... वहाँ राम जन्मभूमि "अयोध्या" में हमें श्री राम का आस्तित्व ढूंढने में इतने साल लग गए! लेकिन अब जब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद श्री राम मंदिर निर्माण सरकारी निर्देशों को पालन करते हुए प्रारम्भ हो गया है, तो खुदाई में मिलने वाले अवशेषों से रोम रोम में राम की कहावत भी सार्थक हो गयी है!

लॉकडाउन के कारण इसमे थोड़ी रुकावट जरूर आयी थी पर योगी सरकार के दृढ़ इक्षा शक्ति के कारण इसे फिर से प्रारम्भ कर दिया गया वो भी पूरी सावधानियों के साथ! ऐसे में भूमि पे निर्माण के लिए जो खुदाई की जा रही है उसमें मंदिर के सैकड़ों साल पुराने ब्लैक टच स्टोन के खम्भों, खंडित मूर्तियों, 5 फुट से अधिक ऊँचे शिवलिंग के साथ-साथ सच भी बाहर निकल आया है! राम मंदिर तीर्थ ट्रस्ट के अध्यक्ष ने इसकी जानकारी मीडिया से साझा की!
इस खुदाई के बाद निकली वस्तुओं के बाद कई सवाल भी खड़े होने शुरू हो गए हैं जैसे श्री राम जन्मभूमि पर ही उनके जन्म होने का सबूत माँगने वालों कहाँ हैं?, राम को काल्पनिक पात्र बताने वाले कहाँ हैं? "वहाँ तो मंदिर था ही नहीं" ऐसा कहने वाले कहाँ हैं? और सबसे बड़ा सवाल... सुस्त सिस्टम और सेकुलरिज्म की दुहाई देकर सालों तक देश भर के करोड़ों हिन्दुओं की आस्था को चोट पहुंचाने का जिम्मेदार कौन है ? खैर छोड़िये, राम ऐसे लोगों का भी भला करें!! 

लेखक ~ शुभम सिंह

3 comments:

  1. सटीक प्रश्न

    ReplyDelete
  2. बहुत ही अद्भुत लेखन कला।
    बड़ा ही उचित विषय उठाया है लेखक ने,
    इन्हें (श्री शुभम् जी को) इस बार के "नॉबेल पुरस्कार" के लिए हम सब भारतवासियों को एक होना पड़ेगा और "श्री शुभम् जी" के लिए आवाज़ बुलंद करनी होगी!!!
    (...ऐसे ही लिखते रहें, "बदलाव" अवश्य आएगा)
    सादर धन्यवाद/
    -विराट
    #vc

    ReplyDelete