5.11.18

केजरीवाल सरकार पर लगे उद्घाटन से पहले स्गिनेचर ब्रिज की फोटो चुराने के आरोप

दिल्ली में यमुना नदी पर नवनिर्मित सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन हो गया. उद्घाटन से पहले ही अरविंद केजरीवाल की सरकार पर स्गिनेचर ब्रिज की फोटो चुराने के आरोप लगे हैं


उद्घाटन से पहले आम आदमी पार्टी ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के हवाले से स्गिनेचर ब्रिज की कुछ तस्वीरें पोस्ट की. मगर उनमें से एक तस्वीर को लेकर बीजेपी की ओर से बताया जा रहा है कि यह तस्वीर दिल्ली के स्गिनेचर ब्रिज की नहीं, बल्कि विदेश की है. आप ने सिग्नेचर ब्रिज की जो तस्वीर पोस्ट की, वह तस्वीर नीदरलैंड के ब्रिज की है.  4 नवंबर को अरविंद केजरीवाल ने सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन किया. 3 नवंबर यानी सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन की तारीख से एक दिन पहले आम आदमी पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से सिग्नेचर ब्रिज की कुछ तस्वीरें पोस्ट कीं. आम आदमी पार्टी ने मनीष सिसोदिया के हवाले से लिखा- 'यहां है आपका गौरव- सिग्नेच ब्रिज  रविवार को उद्घाटन समारोह में आपका स्वागत के लिए तैयार है.आम आदमी पार्टी के इस ट्वीट पर जैसे ही दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता और नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा की नजर पड़ी उन्होंने तुरंत जवाबी हमला बोला. तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने इस पोस्ट के जवाब में एक तस्वीर शेयर की और लिखा- अरविंद केजरीवाल साहब विकास कर लिया होता तो नीदरलैंड के इरास्मस ब्रिज की फोटो चुराने की जरूरत नही पड़ती. ये रहा उसका लिंक जहां से आपने तस्वीर चुराई खैर चोरी/घोटाला तो आपकी फितरत में है.' अरविंद केजरीवाल ने पुल का उद्घाटन करते हुए कहा, ‘‘चार दिन पहले 182 मीटर की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा का उद्घाटन किया गया था और आज 154 मीटर ऊंचे पुल का उद्घाटन किया जा रहा है. देश को इसका निर्णय करना है कि क्या उसे प्रतिमाओं और मंदिरों की जरूरत है या पुल, स्कूल और अस्पतालों की.'' उन्होंने कहा कि सिग्नेचर ब्रिज का विचार उन्हें देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की याद दिलाता है. उन्होंने कहा, ‘‘यदि नेहरू ने भेल और सेल जैसे संस्थानों की बजाय मंदिरों और प्रतिमाओं के निर्माण का चयन किया होता तो देश ने प्रगति नहीं की होती.

SHARE THIS

0 Comment to "केजरीवाल सरकार पर लगे उद्घाटन से पहले स्गिनेचर ब्रिज की फोटो चुराने के आरोप"

Post a Comment

THE7.IN_01