10.11.18

कोई भी हो सकता है 2020 में मुख्यमंत्री पद का दावेदार

एनडीए में सहयोगी पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि बीजेपी और लोक जनशक्ति पार्टी से उनका गठबंधन कायम रहेगा, लेकिन जेडीयू से उनका कोई गठबंधन नहीं है। 


2020 में मुख्यमंत्री पद का दावेदार कोई भी हो सकता है। पटना में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि, लोकतंत्र में एक आम आदमी भी सीएम की कुर्सी तक पहुंच सकता है। यही लोकतंत्र की सुंदरता है। 
उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि उनकी पार्टी का गठबंधन जदयू से नहीं है। भाजपा और लोजपा से है। जदयू से गठबंधन कराना है तो भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को पहल करनी होगी और पूछना होगा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मेरे लिए एतराज लायक' शब्दों का प्रयोग क्यों किया। इससे मैं आहत हूं। कुशवाहा ने कहा कि सीएम को अपना शब्द वापस लेना चाहिए। अगर वह सफाई देना चाहते हैं तो जनता के बीच दें। बिहार मंत्रिमंडल में शामिल होने की बात पर कहा कि रालोसपा बासी भात नहीं खाती है।]
उन्होंने यह भी कहा कि वे जल्दी ही दिल्ली में अमित शाह से मिलेंगे और सीट शेयरिंग को लेकर बात करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि अगर बात नहीं बनती है तो वे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मिलेंगे। कुशवाहा ने खुद को nda,एनडीए गठबंधन का स्थाई हिस्सा बताते हुए कहा कि वह जेडीयू की तरह 'आए-गए' वाले नहीं हैं। एक सवाल के जवाब में कुशवाहा ने कहा कि, 2020 के लिए बिहार में सीएम का उम्मीदवार कोई भी हो सकता है। यह अभी दूर की बात है।
कुशवाहा के सीएम वाले बयान पर पटलवार करते हुए जेडीयू ने कहा कि, मुख्यमंत्री की कुर्सी कोई रसगुल्ला नहीं है, यह लोगों की पसंद से तय होती है वहीं कुशवाहा ने लालू प्रसाद यादव को बिहार की राजनीति के लिए इतिहास की बात बताया और तेजस्वी यादव से जुड़े एक सवाल पर उन्होंने कहा कि तेजस्वी अभी ट्रेनिंग पीरियड में हैं। उन्हें अभी कई परीक्षाओं के दौर से गुजरना है।

SHARE THIS

0 Comment to "कोई भी हो सकता है 2020 में मुख्यमंत्री पद का दावेदार"

Post a Comment

THE7.IN_01