पांचवें वनडे में धोनी ने की एक बड़ी उपलब्धि हासिल, वनडे के तीसरे सबसे कामयाब विकेटकीपर बने - Find Any Thing

RECENT

Thursday, November 01, 2018

पांचवें वनडे में धोनी ने की एक बड़ी उपलब्धि हासिल, वनडे के तीसरे सबसे कामयाब विकेटकीपर बने

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और लिमिटेड ओवरों की क्रिकेट में टीम इंडिया के स्टार विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तिरुवनंतपुरम में खेले जा रहे पांचवें वनडे में एक बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है. 

धोनी का बल्ला भले ही खामोश है और वो रन नहीं बना पा रहे है, लेकिन विकेट के पीछे उनका जलवा जारी है. वेस्टइंडीज के खिलाफ पांचवें वनडे में धोनी ने भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर वेस्टइंडीज के बल्लेबाज कीरोन पॉवेल का शानदार कैच लपका और इसी के साथ ही माही के नाम एक बड़ा रिकॉर्ड दर्ज हो गया.धोनी ने वनडे इंटरनेशनल में विकेट के पीछे सबसे ज्यादा शिकार करने के मामले में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर मार्क बाउचर के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है.
धोनी वनडे इंटरनेशनल में विकेट के पीछे सर्वाधिक शिकार करने के मामले में दुनिया के तीसरे विकेटकीपर बन गए हैं. कीरोन पॉवेल धोनी का वनडे में विकेट के पीछे 425वां शिकार हैं. धोनी ने अपने वनडे करियर में खेले 332 मैचों में 310 कैच और 115 स्टंपिंग के साथ कुल 425 शिकार किए हैं. वनडे इंटरनेशनल में अब धोनी से अधिक शिकार ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट (472) और श्रीलंका के कुमार संगकारा (482) के नाम दर्ज हैं. जबकि मार्क बाउचर के नाम 424 शिकार दर्ज हैं, जो अब धोनी से पिछड़कर चौथे नंबर पर खिसक गए हैं.
धोनी ने वनडे इंटरनेशनल में सर्वाधिक 115 स्टंप किए हैं और धोनी खेल के किसी भी फॉर्मेट में 100 से ज्यादा स्टंपिंग करने वाले दुनिया के इकलौते विकेटकीपर हैं. आज तक कोई भी विकेटकीपर खेल के किसी भी फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे, टी-20) में 100 से ज्यादा स्टंपिंग नहीं कर पाया है.धोनी वनडे में भारत के लिए 10 हजार रन पूरे करने से सिर्फ एक रन दूर हैं. धोनी ने वनडे मैचों में 10 हजार रन पूरे कर चुके हैं और उनके नाम 10,173 रन दर्ज है, लेकिन इसमें 174 रन एशियाई एकादश के लिए बनाए थे. उन्होंने साल 2007 में अफ्रीका एकादश के खिलाफ एशियाई एकादश के लिए खेले तीन मैचों की सीरीज में 174 रन बनाए थे.
धोनी खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं और हाल के समय में उनकी काफी आलोचना हो रही है. धोनी ने इस साल वनडे मैचों की 12 पारियों में 68.10 स्ट्राइकर रेट से 252 रन बनाए हैं. विंडीज के खिलाफ इस सीरीज में धोनी के बल्ले से 23, 7 और 20 रन निकले हैं.

No comments:

Post a Comment