पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीनने के बाद पाकिस्तान को लग सकता है एक और बड़ा झटका - Find Any Thing

RECENT

Sunday, March 03, 2019

पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीनने के बाद पाकिस्तान को लग सकता है एक और बड़ा झटका

पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीनने के बाद पाकिस्तान को लग सकता है एक और बड़ा झटका.

(Pakistan can take another blow after Pakistan's top favored nation status has been snatched)
पुलवामा अटैक के चलते पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीनने और निर्यात किए जाने वाले सामानों पर बेसिक कस्टम ड्यूटी 200 फीसदी तक बढ़ाने के बाद भारत एक बार फिर पाकिस्‍तान को आर्थिक नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहा है. 
भारत अपनी नई रणनीति के तहत पाकिस्‍तान को साउथ एशिन फ्री ट्रेड एरिया (साफ्टा) से बाहर करने जा रहा है.
पहले चरण में दो साल के भीतर दक्षिण एशिया के विकासशील देशों भारत, श्रीलंका और पाकिस्तान को अपनी कस्टम ड्यूटी घटाकर 20 फीसदी तक करना था और इसके बाद अगले पांच साल में इसे शून्य करना था. इनके अलावा कम विकसित देश नेपाल, भूटान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान और मालदीव को इसे शून्‍य करने के लिए अतिरिक्‍त तीन साल का समय दिया गया था.
सॉफ्टा भारत, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, मालदीव और श्रीलंका का एक संगठन है. सॉफ्टा को साल 2004 में गठित किया गया था और यह 2006 से प्रभावी हुआ था. सॉफ्टा के तहत इस संगठन में शामिल देशों के बीच मुक्‍त व्‍यापार की परिकल्‍पना की गई है.
पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए 'मोस्ट फेवर्ड नेशन' का दर्जा वापस ले लिया है. पाकिस्तान से MFN स्टेटस वापस लेने के बाद उसे खरबों का झटका लगा है. साल 2012 के एक आंकड़े के अनुसार भारत और पाकिस्तान के बीच 2.60 बिलियन डॉलर का व्यापार होता है.
भारत और पाकिस्तान के बीच किन चीजों का होता है व्यापार:- भारत और पाकिस्तान के बीच चीनी, कपास, सब्जी, फल, ड्राई फ्रूट, स्टील और सीमेंट सरीखों चीजों का व्यापार होता है. वहीं पाकिस्तान की 1,209 उत्पादों की नकारात्मक सूची है, जिनका आयात भारत से नहीं किया जाता है.

No comments:

Post a Comment