बीजेपी सांसद राज्यवर्द्धन सिंह राठौर और कृष्णा पूनिया का लोकसभा चुनाव में मुकाबला - Find Any Thing

RECENT

Wednesday, April 03, 2019

बीजेपी सांसद राज्यवर्द्धन सिंह राठौर और कृष्णा पूनिया का लोकसभा चुनाव में मुकाबला


बीजेपी सांसद राज्यवर्द्धन सिंह राठौर और कृष्णा पूनिया का लोकसभा चुनाव में मुकाबला

bjp mp rajyavardhan singh rathore and krishna poonia contest in lok sabha elections
लोकसभा चुनाव 2019 में भी हर सीट अहम है और हर संसदीय क्षेत्र के लिए प्रमुख पार्टियां पूरा ज़ोर लगा रही हैं इसी कड़ी में कांग्रेस पार्टी ने केंद्र में सत्तासीन नरेंद्र मोदी सरकार के मंत्री तथा राजस्थान की जयपुर ग्रामीण सीट से बीजेपी सांसद राज्यवर्द्धन सिंह राठौर के खिलाफ उन्हीं के खेल के मैदान से एक खिलाड़ी को उतार दिया है| ओलिम्पिक में भारत को पदक दिला चुके राज्यवर्द्धन सिंह राठौर के सामने कांग्रेस ने ओलिम्पिक में तीन बार भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकीं कृष्णा पूनिया को उतारा है|
राज्यवर्द्धन सिंह राठौर और कृष्णा पूनिया में एक और साम्य भी है ओलिम्पिक खेलों में देश का प्रतिनिधित्व करने तथा कॉमनवेल्थ खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के अलावा दोनों ने राजनीति में भी एक साथ वर्ष 2013 में कदम रखा था|
36-वर्षीय कृष्णा पूनिया वर्ष 2010 में दिल्ली में हुए कॉमनवेल्थ खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली देश की पहली ट्रैक एंड फील्ड महिला एथलीट बनी थीं उन्होंने तीन ओलिम्पिक खेलों में भाग लिया और उन्हें वर्ष 2011 में देश के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्मश्री से सम्मानित किया गया था| 49-वर्षीय केंद्रीय मंत्री राज्यवर्द्धन सिंह राठौर ने वर्ष 2004 में एथेंस ओलिम्पिक खेलों में रजत पदक जीता था और वर्ष 2002 में मैनचेस्टर व वर्ष 2006 में मेलबर्न में कॉमनवेल्थ खेलों में स्वर्ण पदक जीता था चार सालों के दौरानराज्यवर्द्धन सिंह राठौर ने विभिन्न अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में 25 पदक जीते थे| शूटिंग चैम्पियन राज्यवर्द्धन सिंह राठौर भारतीय सेना में कर्नल थे और वह वर्ष 2013 में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर उसी साल बीजेपी में शामिल हो गए थे. वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने जयपुर ग्रामीण सीट से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीपी जोशी को परास्त किया था| हरियाणा से ताल्लुक रखने वाली कृष्णा पूनिया ने पिछले साल राजस्थान की सादूलपुर विधानसभा सीट पर जीत हासिल की थी हालांकि उससे पहले हुए चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था|

No comments:

Post a Comment