रूस के कुछ वैज्ञानिकों ने टाइम मशीन बनाने का दावा किया - THE7 :: Find Any Thing

RECENT

FOR YOUR ADVERTISEMENT HERE CALL @ 9219562228

14.3.19

रूस के कुछ वैज्ञानिकों ने टाइम मशीन बनाने का दावा किया

रूस के कुछ वैज्ञानिकों ने टाइम मशीन बनाने का दावा कियाSome Russian scientists claim to make a time machine

रूस के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि ऐसी टाइम मशीन तैयार की गई है जो समय को पीछे कर सकती है, लेकिन सिर्फ फ्रैक्शन ऑफ सेकंड्स, वो भी एक्सपेरिमेंट के तौर पर. असल जिंदगी में नहीं. ऐसा किया गया है क्वॉन्टम कंप्यूटर की मदद से. ये कथित टाइम मशीन पास्ट या फ्यूचर में नहीं ले जा सकती है, लेकिन यह आगे की शोध के लिए बड़ा ब्रेकथ्रू जैसा माना जा रहा है|
रूस के मॉस्को यूनिवर्सिटी ऑफ फिजिक्स एंड टेक्नॉलजी के वैज्ञानिकों ने स्विट्जरलैंड और अमेरिकी रिसर्चर्स के साथ मिल कर एक ‘टाइम मशीन’ डेवेलप किया है. इसे बनाने के लिए क्वॉन्टम कंप्यूटर का इस्तेमाल किया गया|

ये नई शोध थर्मोडायनेमिक्स के दूसरे लॉ के विपरीत है. क्योंकि थर्मोडायनेमिक्स का दूसरा लॉ ये कहता है कि, इस युनिवर्स की चीजों का समय के साथ क्षय (खात्मा) होता रहता है. यहां तक की सूरज का भी. इसके उदाहरण कई सारे हैं जो आप दिन भर में देखते हैं. आपको बता दें कि इसी का पहला नियम ये कहता है कि एनर्जी ने तो क्रिएट की जा सकती है और न ही खत्म की जा सकती है, इसे सिर्फ ट्रांसफर किया जा सकता है. रूस के इन वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि उन्होंने फिजिक्स के इस लॉ का खंडन कर दिया है और टाइम को पीछे कर दिया है|

डॉ. गॉर्डे लेज्विक मॉस्को इंस्टिट्यूट ऑफ फिजिक्स एंट टेक्नॉलजी के हेड हैं. उन्होंने कहा है, ‘हमने आर्टिफिशियली एक स्टेट तैयार किया है जो टाइम के थर्मोडायनेमिक्स ऐरो के विपरीत दिशा में तैयार होता है’. उन्होंने यह भी कहा है कि ये सिरीज ऑफ पेपर्स थर्मोडायनेमिक्स के दूसरे लॉ का भी विरोध करता है|


क्या है क्वॉन्टम कंप्यूटर?
साफ शब्दों और कम समय में क्वॉन्टम कंप्यूटर को जानना है तो ऐसे समझें. आम कंप्यूटर में जितनी भी जानकारियां या आप डेटा कह लें, ये बिट्स में स्टोर होती हैं. 0 और 1 के तौर पर आप ऐसे भी समझ सकते हैं|

क्वॉन्टम कंप्यूटर में बिट्स नहीं, बल्कि यहां क्यूबिट्स (क्वॉन्टम बिट्स) होते हैं और यही 0,1 के फॉर्म में होते हैं. आम कंप्यूटर में कंप्यूटिंग के लिए बाइनेरी कोड्स जैसे 0 या 1 के जरिए इनफॉर्मेशन को रिप्रेजेंट किया जाता है. जबकि क्वॉन्टम कंप्यूटिंग किसी इनफॉर्मेशन को दर्शाने के लिए Qubits यानी 0,1 और 1 और 1 दोनों के सुपरपोजिशन स्टेट का इस्तेमाल करता है|

No comments:

Post a Comment

FOR YOUR ADVERTISEMENT HERE CALL @ 9219562228